MP Promotion News : प्रमोशन को लेकर आई बड़ी खबर, चार लाख कर्मचारियों को जल्द मिलेगा तोहफा

MP Promotion News Today : पदोन्नति में आरक्षण संबंधी अगली बैठक 8 फरवरी को 

MP Promotion News : प्रमोशन को लेकर आई बड़ी खबर, चार लाख कर्मचारियों को जल्द मिलेगा तोहफा

Reservation in Promotion in MP today news : पदोन्नति का रास्ता निकालने पर हुआ मंथन

Reservation in promotion for sc/st government employees : लंबे समय से प्रमोशन का इंतज़ार कर रहे प्रदेश के कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। प्रदेश की शिवराज सरकार कर्मचारियों को पदोन्नति देने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।


MP police promotion news today : लंबे समय से प्रमोशन का इंतज़ार कर रहे प्रदेश के कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। प्रदेश की शिवराज सरकार कर्मचारियों को पदोन्नति देने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। इसके लिए बैठकों का दौर शुरू हो गया है। पदोन्नति में आरक्षण के मामले में न्यायालय के आदेश के बाद प्रदेश में लंबे समय से प्रमोशन पर रोक लगी है। इसके लिए मंत्रियों की एक समिति बनाई गई है, जो विचार विमर्श कर प्रमोशन पर कोई फार्मूला तैयार करेगी। इसके तहत मंत्री समूह की आज फिर बैठक हुई। इस बैठक में निर्णय लिया गया कि आगामी 8 फरवरी को एक बार फिर बैठक होगी जिसमें कर्मचारियों के पदाधिकारियों को भी बुलाया जाएगा।

गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि पदोन्नति में आरक्षण संबंधी बैठक मंगलवार, 8 फरवरी 2022 को पुनः आयोजित की जायेगी । उन्होंने बताया कि मंत्री समूह ने सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया है कि आगामी बैठक में अजाक्स और सपाक्स संगठन के पदाधिकारियों को भी आमंत्रित किया जाएगा।

 डॉ. मिश्रा ने शासकीय सेवकों को उनके सेवाकाल में पात्रता अनुसार पदोन्नति के अवसर प्रदान करने के लिए गठित मंत्री समूह की बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में शासकीय सेवकों को पात्रतानुसार पदोन्नति के संबंध में भविष्य की रणनीति के निर्धारण के विभिन्न बिन्दु पर चर्चा हुई।

आज संपन्न हुई बैठक में जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट, सहकारिता मंत्री डॉ. अरविंद सिंह भदौरिया, स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री इंदर सिंह परमार, अपर मुख्य सचिव सामान्य प्रशासन श्री विनोद कुमार, अपर मुख्य सचिव जल संसाधन श्री एस.एन. मिश्रा, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक डॉ. अशोक अवस्थी, सचिव विधि श्री ए.के. सिंह, सचिव वित्त श्री अजीत कुमार एवं अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।


चार लाख कर्मचारी हैं कतार में


एक जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश में चार लाख से ज्यादा कर्मचारी छह साल से पदोन्नति का इंतजार कर रहे हैं। इसके लिए अब सरकार भी एक्टिव मोड में आ गई है। प्रदेश में साल 2016 से अब तक साठ हजार से अधिक कर्मचारी बगैर प्रमोशन ही रिटायर हो चुके हैं।

Post a Comment

Please do not enter any spam links in the comments box.

Previous Post Next Post